9.1 C
New York
Thursday, April 18, 2024

Buy now

spot_img

RPSC सदस्य केसरी की नियुक्ति को CM गहलोत ने मानी गलती, कहा- मिलकर लड़ेंगे चुनाव

RPSC सदस्य केसरी की नियुक्ति को CM गहलोत ने मानी गलती, कहा- मिलकर लड़ेंगे चुनाव

राजस्थान विधानसभा चुनाव 2023 की तारीखों का एलान कर दिया गया है। भारत निर्वाचन आयोग ने प्रेस कांफ्रेंस कर पांच राज्यों में चुनाव की तारीखों की घोषणा कर दी है।

सीएम अशोक गहलोत ने मीडिया से बात

राजस्थान लोक सेवा आयोग के सदस्य बनाए गए करनाल केसरी सिंह की नियुक्ति पर विवाद हो गया है। सीएम गहलोत ने नियुक्ति को अपनी गलती बताया। उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण निर्णय हो गया। इससे मैं आहत और दुखी हूं। यह मेरी ही गलती की वजह से हुआ है। आर्मी बैकग्राउंड के व्यक्ति को लेने और मकराना से हमारे खिलाफ कांग्रेस से टिकट मांगने वाला कोई चुनाव न लड़े इस लालच में मुझसे ये गलती हो गई। गहलोत ने ये बातें शुक्रवार को प्रदेश चुनाव समिति की बैठक के बाद मीडिया से बातचीत में कहीं।

गहलोत ने कहा- हम उनसे संपर्क करने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन नहीं पा रहा है। किसी व्यक्ति ने आर्मी में 22 साल सेवा दी हो तो यही लगता है कि वह देश प्रेम और देश के लिए मर मिटने को तैयार रहता है। उसके लिए जाति, धर्म, वर्ग सब पीछे रह जाते है। अगर, रिटायरमेंट के बाद कोई आर्मी का व्यक्ति इस तरह जाति के हिसाब से बात करे तो वह स्वीकार्य नहीं हो सकता। हम इसकी निंदा करते हैं।

दरअसल, आचार संहिता लगने से बिल्कुल पहले सरकार की सिफारिश पर राज्यपाल कलराज मिश्र ने राजस्थान लोक सेवा आयोग में कर्नल केसरी सिंह को सदस्य के रूप में नियुक्त किया था। इस नियुक्ति के बाद केसरी सिंह के कुछ वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए थे जिनमें वे जाट समाज पर कथित तौर पर अनुचित टिप्पणियां कर रहे थे।

कोई किसी भी गुट का हो मिलकर लड़ेंगे
चुनाव की तैयारी को लेकर सीएम गहलोत ने कहा- हर पार्टी में छोटी-मोटी बातें होती रहती हैं। इन सब को भूलकर हम मिलकर चुनाव लड़ेंगे। हर जिताऊ कैंडिडेट को टिकट दिलाने की कोशिश रहेगी और टिकट मिलने के बाद सब मिलकर उसे कामताब करेंगे। प्रत्याशी जीतेंगे तभी हमारी सरकार बनेगी। प्रत्याशियों के चयन में सिर्फ एक ही क्राइटेरिया रखा गया है, वह जिताऊ होना चाहिए।

जयपुर में ईडी की छापेमारी को लेकर गहलोत ने कहा- ये सब सांसद किरोड़ी लाल मीणा और केंद्र सरकार की मिली भगत है। सांसद मीणा मीडिया में बने रहने के लिए इस तरह के काम करते रहते हैं। ईडी में झूठी सच्ची शिकायतें करते हैं। वो जो कर रहे हैं, वह हमारे लिए नई बात नहीं है। मैं सिर्फ यही कहूंगा कि किसी को राजनीतिक तौर पर परेशान करने के लिए इस तरह की कार्रवाई नहीं की जानी चाहिए।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles