23.5 C
New York
Friday, June 14, 2024

Buy now

spot_img

महिला सुरक्षा को लेकर हरियाणा-112 हुआ और अधिक अपडेटेड तथा हाईटैक

महिला सुरक्षा को लेकर हरियाणा-112 हुआ और अधिक अपडेटेड तथा हाईटैक
– अपनी सेफ जर्नी को एडवांस में भी हरियाणा 112 पर कर सकेंगे शैड्यूल, गंतव्य स्थान पर सुरक्षित पहुंचने तक महिला पुलिस द्वारा किया जाता रहेगा ट्रैक
– प्रदेश में लगभग 95 प्रतिशत जिलों में 31 अक्टूबर तक पब्लिक ट्रांसपोर्ट जैसे ऑटो तथा कैब आदि का डेटा होगा अपडेट
चंडीगढ़,  प्रदेश एजेण्डा न्यूज़                                                                                                                                                                   पुलिस विभाग अत्याधुनिक तकनीक का इस्तेमाल करते हुए जल्द ही महिला सुरक्षा को लेकर और अधिक अपडेटेड व हाइटेक होने जा रहा है। इसे लेकर हरियाणा 112 पर महिला सुरक्षा संबंधी नई पहल शुरू होने जा रही है ‘सेफ जर्नी‘ अर्थात् ‘सुरक्षित यात्रा‘ के कॉन्सेप्ट के साथ शुरू होने जा रही यह पहल महिला सुरक्षा को लेकर गेम चेंजर साबित होगी जिससे महिलाओं में सुरक्षा भावना को और अधिक बल मिलेगा और वे सफ़र करते समय अपने आप को सुरक्षित महसूस कर सकेंगी।
यह जानकारी पुलिस महानिदेशक श्री शत्रुजीत कपूर की अध्यक्षता में आयोजित बैठक के दौरान दी गई। यह बैठक हरियाणा 112 के कार्यालय में आयोजित की गई थी जिसमें कई वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया। इस बैठक में हरियाणा-112 के माध्यम से महिलाओं को सुरक्षा प्रदान करने को लेकर विस्तार से चर्चा की गई। श्री कपूर ने कहा कि महिला सुरक्षा पुलिस विभाग की प्राथमिकताओं में से एक हैं। हमारा प्रयास है कि प्रदेष में महिलाएं घरों से बाहर भी अपने आप को सुरक्षित महसूस करें। इसी कड़ी में हरियाणा 112 अब महिला यात्रियों के लिए ‘सेफ जर्नी‘ अर्थात् ‘सुरक्षित यात्रा’ का कॉन्सेप्ट लेकर आ रहा है। इसके तहत अब महिलाएं 112 डायल करके अपने आप को रजिस्टर करते हुए एडवांस में अपनी यात्रा संबंधी जानकारी हरियाणा 112 की टीम के साथ शेयर कर सकेंगी। इसके लिए महिलाएं अपनी डिटेल जैसे नाम, मोबाइल नंबर, प्लेस आफ डिपार्चर, प्लेस ऑफ़ अराइवल, एक्सपेक्टेड टाइम ऑफ़ डिपार्चर व अराइवल आदि जानकारी सांझा करेगी। इसके बाद, हरियाणा 112 की टीम द्वारा महिला के संपर्क में रहेगी। इस दौरान टीम के सदस्यों द्वारा लोकेशन ट्रैक की जाती रहेगी।
बैठक में एडीजीपी टेलीकॉम-आईटी अरशिन्दर चावला ने बताया कि महिलाओं को सुरक्षित वातावरण देने के लिए व्हाट्सएप नंबर पर भी काम किया जा रहा है और इसके माध्यम से प्रदेशवासियों को समय-समय पर हरियाणा 112 के बारे में अपडेट किया जाता रहेगा। इस नंबर के माध्यम से भी हरियाणा पुलिस की सुविधाओं व सेवाओं संबंधी जानकारी आम जनता तक पहुंचाई जाएगी ताकि लोग आवष्यकता अनुरूप इनका लाभ उठा सके। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि प्रदेश में महिलाओं को सुरक्षित वातावरण देने के लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट जैसे- ओला, उबर तथा ऑटो आदि पर भी हरियाणा पुलिस द्वारा स्टिकर लगाए जा रहे हैं जिसमें ऑटो चालक का नाम, मोबाइल नंबर, वाहन का नंबर आदि सहित अन्य जानकारी उपलब्ध करवाई गई है। उन्होंने बताया कि 31 अक्टूबर तक प्रदेश में अधिकांष जिलों के ऑटो चालकों तथा पब्लिक ट्रांसपोर्ट का डेटाबेस तैयार हो जाएगा। बैठक में बताया गया कि सितंबर 2023 में हरियाणा-112 के माध्यम से 5 लाख 22 हजार से अधिक कॉल प्राप्त हुई है। श्री कपूर ने सितंबर माह में हरियाणा -112 के माध्यम से पुलिस तथा अन्य सेवाएं औसतन 8 मिनट 20 सेकंड में मौके पर पहुंचने की प्रशंसा की। एमरजेंसी रिस्पांस व्हीकल (ईआरवी) का शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्रों में 8 मिनट से लेकर 15 मिनट तक निर्धारित किया गया है।
बैठक में अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक साइबर ओपी सिंह, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक हरियाणा-112 तथा आईटी अरशिन्दर चावला, एडीजीपी ला एन्ड आर्डर ममता सिंह, आईजी आधुनिकीकरण अमिताभ ढिल्लों, आईजी एडमिन संजय कुमार, आईजी अम्बाला एवं पुलिस आयुक्त सिबास कविराज सहित कई अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles