23.5 C
New York
Friday, June 14, 2024

Buy now

spot_img

आत्मनिर्भर-विकसित राष्ट्र बनाने के विजन को साकार करेगा ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा-जनसंवाद’ कार्यक्रम-स्कूल शिक्षा मंत्री

आत्मनिर्भर-विकसित राष्ट्र बनाने के विजन को साकार करेगा ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा-जनसंवाद’ कार्यक्रम-स्कूल शिक्षा मंत्री
स्कूल शिक्षा मंत्री कवर पाल ने गांव देवधर,जयधरी में किया ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा-जनसंवाद’ कार्यक्रम का आगाज
हरियाणा प्रदेश के सभी शहर, गांवों, कस्बों और वार्डों को कवर करेगी यात्रा
नागरिकों को दिलाई गई ‘हमारा संकल्प-विकसित भारत’ की शपथ
यमुनानगर, प्रदेश एजेण्डा न्यूज़
हरियाणा सरकार में स्कूल शिक्षा, वन, पर्यावरण मंत्री कंवरपाल ने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से 26 जनवरी 2024 तक चलाया जा रहा देशव्यापी ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा-जनसंवाद’ कार्यक्रम देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के भारत को 2047 तक ‘आत्मनिर्भर और विकसित’ राष्ट्र बनाने के विजन को साकार करेगा। ‘आत्मनिर्भर और विकसित’ भारत अभियान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का वह दूरदर्शी विजन है जिसके साकार होने से भारत वैश्विक स्तर पर एक मजबूत और प्रभावशाली राष्ट्र के रूप में अपनी पहचान कायम करेगा और फिर से विश्व गुरु बनेगा स्कूल शिक्षा मंत्री ने गुरुवार को जगाधरी विधानसभा क्षेत्र के गांव देवधर,जयधरी में  ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा-जनसंवाद’ कार्यक्रम के दौरान बतौर मुख्य अतिथि नागरिकों से सीधा संवाद कर रहे थे।
स्कूल शिक्षा मंत्री ने कहा कि इस अभियान के तहत सरकार की जनकल्याणकारी व महत्वाकांक्षी योजनाओं को अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। उन्होंने कहा कि ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा-जनसंवाद’ कार्यक्रम का शुभारंभ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गत 15 नवंबर 2023 को आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र झारखंड के खूंटी से किया था। हरियाणा के सभी जिलों में गुरुवार को इस यात्रा का भव्य शुभारंभ हुआ है और मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने फरीदाबाद जिला से यात्रा का प्रदेश में आगाज किया है।
केंद्र-प्रदेश सरकार की नीतियों के बारे में जागरूकता पैदा करना यात्रा का उद्देश्य-*स्कूल शिक्षा मंत्री कवरपाल
स्कूल शिक्षा मंत्री कवर पाल ने कहा कि ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा-जनसंवाद’ कार्यक्रम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की राष्ट्रव्यापी पहल है। इस यात्रा का मुख्य उद्देश्य केन्द्र सरकार व राज्य सरकार की कल्याणकारी नीतियों के बारे में जागरूकता पैदा करना और उनकी शत-प्रतिशत परिपूर्णता सुनिश्चित करना है। यह यात्रा देश के कोने-कोने में समाज के सभी वर्गों विशेषकर वंचित वर्गों तक कल्याणकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाने की एक अनूठी पहल है। यह यात्रा 25 जनवरी 2024 तक प्रदेश के हर गांव व हर शहर से होकर गुजरेगी। इस यात्रा के दौरान गरीब वर्गों के लोगों, महिलाओं, युवाओं, किसानों, मध्यम वर्ग के लोगों के लिए केन्द्र व राज्य सरकार की स्कीम की जानकारी जन-जन तक पहुंचाई जाएगी ताकि उनके स्कीमों के प्रति जागरूकता पैदा हो और वे इनका लाभ उठा सकें। इस यात्रा के माध्यम से योजनाओं के लाभार्थियों का फीड बैक भी लिया जा रहा है। उसके आधार पर यदि किसी योजना के क्रियान्वयन में कोई कमी रह गई है तो उसे दूर किया जाएगा। जो लाभार्थी किन्हीं कारणों से सरकारी सेवाओं का लाभ उठाने से वंचित रह गए हैं, उन्हें भी योजनाओं का लाभ दिया जाएगा। इस यात्रा के माध्यम से युवाओं और महिलाओं के लिए रोजगार व अन्य स्कीम की जानकारी दी जा रही है। यदि किसी का आयुष्मान कार्ड, बीपीएल कार्ड, परिवार पहचान पत्र, वृद्धावस्था सम्मान भत्ता या अन्य सामाजिक सुरक्षा पेंशन नहीं बनी है तो उनका पंजीकरण किया जाएगा।
प्रधानमंत्री मोदी के समावेशी विकास की अवधारणा को आगे बढ़ा रहे मुख्यमंत्री मनोहर लाल स्कूल शिक्षा मंत्री
स्कूल शिक्षा मंत्री कवरपाल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समावेशी विकास की अवधारणा को आगे बढ़ाते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने शिक्षा, स्वास्थ्य, कानून-व्यवस्था, महिला सशक्तिकरण, युवाओं के उत्थान और अंत्योदय को हासिल करने के लिए कई अनूठी स्कीम शुरू की हैं और ऐतिहासिक निर्णय लिए हैं। आईटी का बड़े पैमाने पर प्रयोग करके व्यवस्था परिवर्तन का काम किया है, जिससे भाई-भतीजावाद, भ्रष्टाचार व क्षेत्रवाद पर अंकुश लगा है। परिवार पहचान पत्र के माध्यम से सरकारी सेवाओं और योजनाओं को ऑनलाइन कर देने से इनका लाभ लोगों को घर-द्वार पर ही मिल रहा है। अब गरीब का हक कोई छीन नहीं सकता। उन्होंने पहले उन परिवारों को बी.पी.एल. में शामिल किया गया था जिनकी वार्षिक आय 1 लाख 20 हजार रुपये से कम थी। सरकार ने यह आय सीमा बढ़ाकर 1 लाख 80 हजार रुपये वार्षिक कर दी। इससे 20 लाख नए परिवार बी.पी.एल. में आ गए हैं। प्रदेश में 42 लाख उन परिवारों को ऑनलाइन बी.पी.एल. राशन कार्ड दिए गये हैं, जिनकी वार्षिक आय 1 लाख 80 हजार रुपये तक है।
गरीब लोग धन के अभाव में उपचार से नहीं रहेंगे वंचित-मंत्री कंवरपाल
स्कूल शिक्षा मंत्री कवर पाल ने कहा कि गरीब लोग धन के अभाव में उपचार से वंचित न रहें, इसके लिए आयुष्मान भारत-चिरायु योजना चलाई जा रही है। इसमें अंत्योदय परिवार को 5 लाख रुपये तक का सालाना मुफ्त ईलाज उपलब्ध कराया जाता है। अब तक कुल 87 लाख आयुष्मान भारत-चिरायु कार्डों बनाए जा चुके हैं। इस योजना में प्रदेश में 8 लाख 50 हजार मरीजों के ईलाज के लिए 1088 करोड़ रुपये के क्लेम दिये जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि अब इस योजना में वार्षिक आय की सीमा बढ़ाकर 3 लाख रुपये कर दी है। इससे लगभग 8 लाख और परिवार कवर हो जाएंगे। इन परिवारों को स्वास्थ्य बीमा के रूप में मात्र 1500 रुपये वार्षिक जमा करवाने होंगे। सबको स्वस्थ रखने की दिशा में एक अन्य पहल ‘निरोगी हरियाणा योजना’ के रूप में की गई है। इस योजना का उद्देश्य प्रदेश की सम्पूर्ण जनसंख्या की 2 साल में कम से कम एक बार सम्पूर्ण स्वास्थ्य जांच करना है। निरोगी हरियाणा योजना में प्रदेश के 32 लाख से अधिक गरीबों के 1 करोड़ 72 लाख मुफ्त टेस्ट किये गये हैं। सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजनाओं को परिवार पहचान पत्र से जोडकर घर बैठे पेंशन लगाने का काम किया गया है। वृद्धावस्था पेंशन की पात्रता के लिए वार्षिक आय की सीमा 2 लाख रुपये से बढ़ाकर 3 लाख रुपये की गई है। सामाजिक सुरक्षा पेंशन भी 1000 रुपये से बढ़ाकर 2750 रुपये मासिक की है। अब इसे जनवरी 2024 से बढ़ाकर 3000 रुपये मासिक कर दिया गया है।
‘मेरी कहानी-मेरी जुबानी’ के माध्यम से लाभार्थियों ने सांझा की सफलता की कहानियां-
‘विकसित भारत संकल्प यात्रा-जनसंवाद’ के दौरान ‘मेरी कहानी-मेरी जुबानी’ के तहत विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों ने सफलता की कहानियां सांझा करते हुए अपने-अपने अनुभवों के बारे में बताया कि कैसे वह और उनका परिवार सरकार की अंत्योदय उत्थान एवं कल्याण को समर्पित योजनाओं का लाभ उठाकर बेहतर व अच्छे तरीके से अपना जीवनयापन कर रहे हैं। लाभार्थियों ने बताया कि केंद्र व राज्य सरकार द्वारा स्वरोजगार स्थापित करने के लिए ऋण उपलब्ध कराया गया। लाभार्थियों ने कहा कि अन्य लोगों को भी केंद्र व राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ प्राप्त कर स्वरोजगार से जुडऩा चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार उनका जीवन स्तर ऊपर उठाने व उनके कल्याण एवं उत्थान के लिए निरंतर प्रयासरत है। इस अवसर पर सरकारी योजनाओं के लाभ से वंचित लोगों की पहचान करते हुए मौके पर ही ऐसे सभी व्यक्तियों का पंजीकरण सुनिश्चित किया गया।
भारत को 2047 तक ‘आत्मनिर्भर और विकसित’ बनाने का लिया संकल्प-
‘विकसित भारत संकल्प यात्रा-जनसंवाद’ कार्यक्रम के दौरान सभी ने एक साथ मिलकर भारत को विकसित राष्ट्र बनाने का संकल्प लेते हुए शपथ ली कि ‘भारत को 2047 तक आत्मनिर्भर और विकसित राष्ट्र बनाने के सपने को साकार करेंगे। गुलामी की मानसिकता को जड़ से उखाड़ फेकेंगे। देश की समृद्ध विरासत पर गर्व करेंगे। भारत की एकता को सुदृढ़ करेंगे और देश की रक्षा करने वालों का सम्मान करेंगे। नागरिक होने का कर्तव्य निभाएंगे’। ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा-जनसंवाद’ कार्यक्रम के शुभारंभ अवसर पर मोबाइल वैन में लगी एलईडी स्क्रीन के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संदेश का प्रसारण दिखाया गया। इस कार्यक्रम में केंद्र व हरियाणा सरकार की उपलब्धियों पर आधारित शॉर्ट फिल्म का भी प्रसारण किया गया।
‘विकसित भारत संकल्प यात्रा-जनसंवाद’ के दौरान आयोजित हुई ये गतिविधियां-
‘विकसित भारत संकल्प यात्रा-जनसंवाद’ कार्यक्रम के दौरान लोक कलाकारों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम, प्रगतिशील किसानों व प्राकृतिक खेती करने वाले किसानों के विचार सांझा करने के साथ उन्हें प्रोत्साहित किया गया। कृषि विज्ञान केंद्र द्वारा ड्रोन प्रदर्शन किया गया। नागरिकों को प्रचार सामग्री का वितरण किया गया। निरोगी हरियाणा के तहत स्वास्थ्य जांच शिविर, आयुष विभाग की ओर से आरोग्य शिविर, योगाभ्यास, क्रीड द्वारा परिवार पहचान पत्र से संबंधित सेवाओं के लिए हेल्प डेस्क, मेरी फसल-मेरा ब्यौरा व किसानों के लिए कृषि और बागवानी विभागों की हेल्प डेस्क बनाई गई, स्वामित्व कार्ड पंजीकरण और वितरण डेस्क लगाया गया, यात्रा के दौरान कॉमन सर्विस सेंटर का संचालन, मेरा भारत स्वयं सेवकों के पंजीकरण के लिए स्टॉल, पीएम उज्ज्वला योजना के तहत 100 प्रतिशत परिपूर्णता सुनिश्चित करने के लिए डेस्क, स्वयं सहायता समूहों के उत्पादों की बिक्री हेतु स्टॉल व उनके परिजनों के लिए हेल्प डेस्क, बैंकिंग सेवाओं के लिए स्टाल, ऋण आवेदनों के लिए हेल्प डेस्क लगाए गए।
विकसित भारत जन संवाद संकल्प यात्रा का हुआ आगाज
स्कूल शिक्षा,वन,पर्यावरण मंत्री कवरपाल ने गांव देवधर से किया संकल्प यात्रा का शुभारंभ
उज्जवला योजना के 4 लाभार्थियों को दिए कनेक्शन
विकसित भारत जन संवाद संकल्प यात्रा के दौरान आज प्रधानमंत्री उज्ज्वल योजना के तहत गांव की वर्षा देवी, मुकेश देवी,रूकमा  को मुफ्त एलपीजी गैस कनेक्शन दिए गए। यह योजना भारत के गरीब परिवारों की महिलाओं के चेहरों पर खुशी लाने के उद्देश्य से शुरू की गई थी। यह योजना भारत के गरीब परिवारों की महिलाओं के चेहरों पर खुशी लाने के उद्देश्य से शुरू की गई थी। इस योजना के अंतर्गत गरीब महिलाओं को मुफ्त एलपीजी गैस कनेक्शन दिए जाते हैं।
गांव की 7 होनहार बेटियों को किया सम्मानित
विकसित भारत जन संवाद संकल्प यात्रा के दौरान मंत्री कवरपाल ने गांव की 7 होनहार बेटियों को स्मृति चिंह देकर सम्मानित किया।
ये रहे मौजूद-
इस अवसर पर डीसी कैप्टन मनोज कुमार, एडीसी आयुष सिन्हा, सीईओ जिला परिषद नवीन आहुजा, एसडीएम बिलासपुर जसपाल गिल, मंडल अध्यक्ष कल्याण सिंह, सरपंच देवधर प्रवीन कुमारी, सरपंच जयधरी मैनपाल, बीडीपीओ सचेत मितल, बीडीपीओ जोगेश कुमार सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति व अधिकारीगण मौजूद रहे।
फोटो न0-1 से 6

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles