23.4 C
New York
Saturday, July 13, 2024

Buy now

spot_img
Home Blog

भीम आर्मी,आजाद समाज पार्टी के जगाधरी विधानसभा के प्रभारी डॉ अशोक कश्यप ने जगाधरी के ताहरपुर कला में की विशाल जनसभा

 

भीम आर्मी,आजाद समाज पार्टी के जगाधरी विधानसभा के प्रभारी डॉ अशोक कश्यप ने जगाधरी के ताहरपुर कला में की विशाल जनसभा

यमुनानगर रविंद्र चौहान प्रदेश एजेण्डा न्यूज़

कल 10 जुलाई को जगाधरी विधानसभा के ताहरपुर कला गांव में एडवोकेट चंद्रशेखर आजाद के नगीना लोकसभा से सांसद बनने की खुशी में डॉ अशोक कश्यप ने एक जनसभा का आयोजन किया, जिसकी अध्यक्षता जिला अध्यक्ष प्रदीप गौतम ने की। प्रदीप गौतम ने कहा कि हम मजबूती से यमुनानगर जिले में चुनाव लड़ेंगे।

डॉ अशोक कश्यप ने चुनाव को लेकर अपनी ताल ठोक कर कहा कि हम जगाधरी विधानसभा में बड़ी मजबूती से आजाद समाज पार्टी भीम आर्मी से चुनाव लड़ेंगे और भारी मतों से हमारी काउंटिंग शुरू होगी। उन्होंने कहा हम भारी मतों से विजय होकर दिखाएंगे क्योंकि हम हर वर्ग की समस्या को दूर करने के लिए हर प्रकार का संभव प्रयास करेंगे।

इस जनसभा में भीम आर्मी हरियाणा के प्रदेश अध्यक्ष कमल बराडा ने कहा कि आजाद समाज पार्टी हरियाणा में लगभग सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगी और अपनी सरकार बनाएगी। मौके पर भीम आर्मी आजाद समाज पार्टी के पदाधिकारी, धर्मपाल वाल्मीकि जिला प्रभारी आजाद समाज पार्टी यमुनानगर,अंकित छछरौली जिला उपाध्यक्ष यमुनानगर,एड. केसर सिंह जिला अध्यक्ष लीगल सेल यमुनानगर भीम आर्मी , इजीनियर धर्मपाल जिला प्रबक्ता यमुनानगर भीम आर्मी, ,विंनोद खारवन जिला सचिव यमुनानगर भीम आर्मी,सुरजीत गनोला विधानसभा अध्यक्ष जगाधरी, संदीप मारवा विधानसभा अध्यक्ष सढोरा,ऋषिपाल विधानसभा अध्यक्ष रादौर, , मंदीप टोपरा,सशील बम्बोली, सचिन उपाध्यक्ष जगाधरी विधानसभा, हर्ष साडोरा सचिव विधानसभा, विशाल मीडिया प्रभारी सडोरा विधानसभा कार्यकर्ता व समर्थक और ग्रामवासी मौजूद रहे।

 

 

आईएसटीपी के( इंडस्ट्रियल सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट) लिए मैटल इंडस्ट्री एवं उद्योगपतियों ने किया कृषि मंत्री कंवर पाल का आभार व्यक्त

आईएसटीपी के( इंडस्ट्रियल सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट) लिए मैटल इंडस्ट्री एवं उद्योगपतियों ने किया कृषि मंत्री कंवर पाल का आभार व्यक्त


यमुनानगर: रविंद्र चौहान प्रदेश एजेण्डा न्यूज़

प्रदेश सरकार द्वारा करीब 99 करोड़ रूपये की लागत से जगाधरी में इंडस्ट्रियल सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट लगाने की मंजूरी प्रदान करने पर मैंटल इंडस्ट्री के मालिकों एवं उद्योगपतियों ने प्रदेश सरकार के साथ-साथ कृषि मंत्री कंवरपाल का आभार व्यक्त किया और कृषि मंत्री को उनके जगाधरी आवास पर पुष्प गुच्छ देकर और मिठाई खिलाकर उनका आईएसटीपी के लिए धन्यवाद किया।


हरियाणा व्यापार कल्याण बोर्ड के जिला अध्यक्ष मनोज गुप्ता और जगाधरी एनवायरमेंट सोसाइटी के प्रेसिडेंट एपीएस भट्टी ने कहा कि मैटल इंडस्ट्री की लंबे समय से मांग थी कि जगाधरी में इंडस्ट्रियल सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट लगाया जाए, क्योंकि जगाधरी में बहुत अधिक मैटल इंडस्ट्री हैं। मैटल इंडस्ट्री से जो वेस्टेज के रूप में दूषित पानी निकलता है तो कई बार उससे कई प्रकार की गंभीर समस्याएं उत्पन्न होती हैं। कृषि मंत्री के समक्ष जब इंडस्ट्री से जुड़े लोगो ने इस समस्या को रखा तो उन्होंने इस विषय को गंभीरता से लेते पहले इस प्रोजेक्ट को मंजूर करवाया और अब लगभग 99 करोड़ की लागत से इसका टेंडर पास हो गया है। उन्होंने कहा कि कृषि मंत्री कंवर पाल के प्रयासों से ही यह सब संभव हो पाया है। जगाधरी मैटल इंडस्ट्री को निश्चित रूप से इसका लाभ मिलेगा। इससे जगाधरी की मैटल इंडस्ट्री मजबूत होगी और उसके उत्पादों को और बढ़ावा मिलेगा। वही इस ट्रीटमेंट प्लांट के माध्यम से जगाधरी के प्रदूषण स्तर को कम करने में भी मदद मिलेगी। इसके लगने से पर्यावरण संरक्षण में बड़ा फायदा होगा।
हरियाणा के कृषि मंत्री कंवरपाल ने बताया कि प्रदेश की भाजपा सरकार का हमेशा विकास कार्यों को बढ़ावा देने का रहा है और विकास कार्यों की बदौलत आज हरियाणा देश का विकसित राज्य हैं। उन्होंने बताया कि सरकार ने सर्वप्रथम जगाधरी में करीब 99 करोड़ रूपये की लागत से इंडस्ट्रियल सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट लगाने की मंजूरी प्रदान की है। उन्होंने बताया कि हरियाणा में पहली बार यह इंडस्ट्रियल सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग द्वारा जगाधरी विधानसभा में लगाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि मैंटल इंडस्ट्री की बहुत लम्बे से इस मांग को सरकार ने पूरा कर जगाधरी मैंटल इंडस्ट्री के मालिकों को एक अच्छी सौगात दी है। उन्होंने कहा कि भाजपा सबका साथ-सबका विकास के मूल मंत्र को मानकर विकास कार्यों को प्राथमिकता से करवाती है। उन्होंने बताया कि इस इंडस्ट्रियल सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट की स्थापना से न केवल जगाधरी का वातावरण स्वच्छ बनेगा, बल्कि यह स्थानीय आर्थिक विकास को भी प्रोत्साहित करेगा।
इस मौके पर उद्योगपति सजल जैन, तिलक राज धीमान,विभोर पाहुजा,जगाधरी इनवायरमेंट सोसाइटी के प्रेसिडेंट एपीएस भट्टी,ब्रास एसोसिशन के प्रेसिडेंट अश्वनी गोयल, स्टेन लेस स्टील एसोसिशन के प्रेसिडेंट शिकांत गर्ग, एल्यूमिनियम एसोसिएशन के प्रेसिडेंट सुशील बंसल,व्यास गोयल ,अमन सोनी, प्रशांत गर्ग,हरमिंदर सिंह समेत अनेकों उद्योगपति उपस्थित रहे।

 

 

 

किसानों के लिए प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना लाभकारी

किसानों के लिए प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना लाभकारी

-योजना के तहत 40 से 60 प्रतिशत वित्तीय सहायता का प्रावधान

यमुनानगर रविंद्र चौहान प्रदेश एजेंडा न्यूज

-डीसी कैप्टन मनोज कुमार ने कहा कि किसानों और मछली पालन का धंधा करने वाले लोगों के लिए प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना आर्थिक स्थिति मजबूत करने में वरदान सिद्ध हो रही है। योजना के तहत 40 से 60 प्रतिशत वित्तीय सहायता का प्रावधान किया गया है।
डीसी ने बताया कि जिला में उन गांवों के लोगों को मत्स्य पालन के प्रति प्रोत्साहित किया जा रहा है, जिन गांवों में बरसात के पानी के ठहराव होता है या भूमि बंजर है। मछली पालन से किसानों की आय बढ़ रही है। झींगा मछली पालन से 5 से 6 लाख रुपये प्रति एकड़ तक आमदनी होती है। उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा योजना के तहत अनुसूचित जाति व महिला वर्ग मछली पालकों को 60 प्रतिशत अनुदान तथा सामान्य वर्ग को मछली पालन पर 40 प्रतिशत अनुदान दिया जा रहा है।
कैप्टन मनोज कुमार ने आगे बताया कि प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के तहत 60 प्रतिशत सभी वर्गों की महिलाओं व अनुसूचित जाति को तथा 40 प्रतिशत सामान्य व ओबीसी को अनुदान प्रदान किया जाता है। इस योजना के तहत प्रार्थी निजी भूमि में या पट्टे पर भूमि लेकर मछली फीड हैचरी, तालाबों के निर्माण, बायोफ्लॉक, आरएएस, फीड मिल, कोल्ड स्टोर आदि लगाने पर विभाग से वित्तीय एवं तकनीकी सहायता प्राप्त कर सकते हैं।
-यूनिट लगाने से पूर्व मिट्टी व पानी की टेस्टिंग जरूरी
डीसी ने  बताया कि विभाग द्वारा प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना तथा अन्य विभागीय योजनाओं के लिए किसानों को जागरूक करते हुए समय-समय पर विभाग द्वारा प्रशिक्षण भी दिया जाता है। यूनिट लगाने से पहले प्रशिक्षण अवश्य लें तथा मिट्टी व पानी की टेस्टिंग अवश्य रूप से करवाएं ताकि यूनिट कामयाब हो सके

ग्रामीणों का आरोप वन विभाग षड्यंत्र के तहत फंसा रहा

कलसिया वन रेंज की चिक्कन बीट से खैर के पेड़ काटने का मामला गरमाता जा रहा

ग्रामीणों का आरोप वन विभाग षड्यंत्र के तहत फंसा रहा

छछरौली रविंद्र चौहान प्रदेश एजेण्डा न्यूज़

कलसिया वन रेंज क्षेत्र की चिक्कन बीट से खैर के चार पेड़ कटने का मामला गरमाता जा रहा है । वन विभाग का दावा है कि उन्होंने नाकाबंदी के दौरान एक कार पकड़ी जो तस्कर लेकर फरार हो गए । बाद में पुलिस की मदद से खाली कार को कब्जे में लिया गया । खैर की लकड़ी बरामद नहीं हो सकी। वन विभाग का दावा है कि तस्करों को पकड़ने का प्रयास किया तो तस्करों ने सरकारी गाडी को टक्कर मार दी और वन कर्मियों से गाली गलौज व धक्कामुक्की खैर से लकड़ी से भरी गाड़ी को भगा ले गए।

 

वन विभाग के डारपुर बीट के साथ चिक्कन बीट का कार्यभार देख रहे गार्ड राजेंद्र ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उन्हें सूचना मिली थी कि आरोपी माजिद व शमशाद ने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर चिक्कन बीट से बीती चार जुलाई को खैर के चार पेड़ काट लिए थे व लकड़ी को अपने घर पर छुपा कर रखा है।

 

उसे छह जुलाई को उन्हें सूचना मिली कि वह लोग खैर के पीसों को गाड़ी में लादकर बाजार में बेचने के लिए ले जाया जाएगा। राजेंद्र ने शिकायत में बताया कि उसने बागपत बीट के वन रक्षक इंचार्ज मनजीत व
सुरेंद्र कुमार माली के साथ मिलकर गांव टिब्बी बक्करवाला में मेन सड़क पर अपनी सरकारी गाड़ी से नाकाबंदी कर दी। दोपहर के करीब दो बजे मेघूवाला की ओर से एक सेंट्रो कार आती दिखाई दी।

 

गाड़ी में खैर की लकड़ी लदी थी, गाड़ी चालक ने उनकी सरकारी गाड़ी में टक्कर मार भागने की कोशिश की। वन कर्मियों से उक्त खैर से लदी कार को रोकने का प्रयास किया तो तस्करों ने उन्हें धक्का मारा व गाली गलौज कर गाड़ी को बहलोलपुर की ओर भगा लिया, वह गांव के अंदर गली से मुड़ कर मेघूवाला की तरफ चल दिए। इसके बाद वह अपनी गाड़ी लेकर चिक्कन की ओर भाग गए।

ग्रामीणों का आरोप षड्यंत्र के तहत फंसा रहा है वन विभाग

ग्रामीण मुस्तकीम ,आलमगीर , शमशाद आदि का कहना है कि यहां के ग्रामीण हर बार वन विभाग के निशानै पर रहते हैं जबकि वन विभाग के कुछ कर्मचारी ही अपनी मिली भगत से तस्करों से खैर की लकड़ी कटवाते हैं। और आरोप ग्रामीणों पर लगा देते हैं। उनका कहना है कि मेंन रोड के पास ही खैर के इतने पेड़ कट गए यह सब बिना मिली विगत के नहीं हो सकता। इसकी जांच होनी चाहिए । उनका आरोप है कि वन विभाग के कुछ कर्मचारी मिले हुए हैं।ग्रामीणों का आरोप था कि वन विभाग ने जान बूझकर यह षड्यंत्र रचा खाली कार को पकडकर कब्जे में लिया है और ग्रामीणों को चोट भी मारी है। ग्रामीणों का कहना है कि वह इस मामले में उच्च अधिकारियों से मिलेंगे कि मामले की जांच की जाए। एक षड्यंत्र के तहत ग्रामीणों के ऊपर मुकदमा दर्ज कराया जा रहा है और उन्हें तस्कर बनाकर बदनाम किया जा रहा है। उनका कहना है कि जंगल में जगह-जगह खैर के अवशेष हैं । अगर जांच की जाए तो सैकड़ो की तादाद में यहां खैर के अवशेष मिलेंगे।

कृषि मंत्री ने खुला दरबार में बिजली निगम के एसडीओ और जेई को किया सस्पेंड

कृषि मंत्री ने खुला दरबार में बिजली निगम के एसडीओ और जेई को किया सस्पेंड

यमुनानगर रविंद्र चौहान प्रदेश एजेण्डा न्यूज़

जगाधरी विधानसभा के अंतर्गत आने वाले गांव खदरी में कृषि मंत्री कंवरपाल ने जनता दरबार में लोगों की समस्याएं सुनी। इस दौरान बिजली निगम से जुड़ी समस्याएं लेकर ग्रामीण दरबार में पहुंचे। जब कृषि मंत्री ने बिजली निगम के अधिकारियों के बारे में पूछा तो वहां पर कोई भी हाजिर नहीं मिला। न तो वहां पर एसडीओ व जेई मिले। जबकि एक दिन पहले जनता दरबार के बारे में अधिकारियों को सूचित किया गया था। कृषि मंत्री ने छछरौली बिजली निगम में कार्यरत एसडीओ कमल पानरा व जेई कृष्ण सैनी को निलंबित करने के आदेश दिए।

 

कृषि मंत्री ने बताया कि बिजली निगम के दोनों अधिकारियों की पूर्व में भी कई शिकायते उनके समक्ष आ चुकी है। जनता दरबार से दोनों अधिकारी नदारद रहे। लगभग दो घंटे बाद यह जनता दरबार में पहुंचे। यह लापरवाही है। ग्रामीणों ने भी उन्हें दोनों अधिकारियों के बारे में बताया कि यह कार्यालय में भी नहीं रहते है और न ही उनकी शिकायतों को सुनते हैं। अधिकारियों को भी निर्देश दिए गए हैं कि वह जनता के कामों को प्राथमिकता करें और कार्यशैली में भी सुधार लाए। यदि जनता के कामों में इस तरह से कोई लापरवाही बरतता है तो उसे बख्शा नहीं जाएगा।

 

पहले जनता दरबार में भी नहीं आए थे दोनों अधिकारी

इससे पहले भी कृषि मंत्री ने जनता दरबार लगाया। जिसमें भी बिजली निगम के दोनों अधिकारी नहीं पहुुंचे थे। उस दौरान भी लोगों ने बिजली से संबंधित शिकायतें रखी थी। जिसका जवाब देने के लिए कोई भी अधिकारी नहीं था।

 

 

 

राजकीय महाविद्यालय, अहड़वाला बिलासपुर में योग क्लब के तत्वाधान में योगा ब्रेक ट्रेनिंग प्रोग्राम का हुआ आयोजन  

 

राजकीय महाविद्यालय, अहड़वाला बिलासपुर में योग क्लब के तत्वाधान में योगा ब्रेक ट्रेनिंग प्रोग्राम का हुआ आयोजन 

 

बिलासपुर सरदारी लाल प्रदेश एजेण्डा न्यूज़

राजकीय महाविद्यालय, अहड़वाला बिलासपुर में योग क्लब के तत्वाधान में योगा ब्रेक ट्रेनिंग प्रोग्राम का आयोजन किया गया। जिसमें महाविद्यालय में विद्यार्थियों को पढ़ाई के बीच में एक योग ब्रेक के अंतर्गत योग करवाने के लिए प्राध्यापकों को योग सिखाने के लिए प्रशिक्षण दिया गया। सर्वप्रथम योग क्लब के संयोजक डॉ रमेश धारीवाल ने महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ सर्वजीत कौर का स्वागत किया।

इसके पश्चात महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ सर्वजीत कौर ने महाविद्यालय के सभी स्टाफ सदस्यों तथा अन्य सदस्यों को संबोधित करते हुए कहा कि ज्यादातर विद्यार्थी पढ़ाई करते समय तनाव से ग्रसित हो जाते हैं ऐसे में पढ़ाई के बीच में कुछ समय के लिए योग करवाने से वे तनाव से तो मुक्त होंगे ही बल्कि शारीरिक रूप से भी स्वस्थ रहेंगे और उनकी एकाग्रता बढ़ेगी जिससे विद्यार्थियों का पढ़ाई में भी मन लगेगा।

 

इनके पश्चात योग क्लब के संयोजक डॉ रमेश धारीवाल ने अपने संबोधन में कहा योग करने से हम शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रहते हैं और योग में ही ध्यान के अंतर्गत हम आध्यात्मिकता की ओर बढ़ते हैं जिससे हमारी आत्मा को शांति मिलती है। हमारी कार्य प्रणाली में भी सुधार आता है और हम प्रसन्न होकर अपने कार्यों को संपन्न कर पाते हैं। इसके पश्चात योग क्लब के संयोजक डॉ रमेश धारीवाल ने महाविद्यालय के सभी स्टाफ सदस्यों तथा अन्य सदस्यों को योग का प्रशिक्षण दिया जिसके अंतर्गत प्राणायाम, अनुलोम विलोम, कपालभाति, श्वसन क्रियाएं तथा स्ट्रेचिंग से संबंधित क्रियाएं करवाईं। इसके पश्चात डॉ रमेश धारीवाल ने प्राचार्या तथा सभी स्टाफ सदस्यों और अन्य सदस्यों का धन्यवाद किया। इस अवसर पर मंच का संचालन आरती अरोड़ा ने किया। इस कार्यक्रम में महाविद्यालय के सभी स्टाफ सदस्यों तथा अन्य सदस्यों ने भाग लिया।

 

 

बच्चों को वनरक्षक सप्ताह के अंतर्गत वनस्पति विज्ञान के बारे में जानकारी दी गई।

 

बच्चों को वनरक्षक सप्ताह के अंतर्गत वनस्पति विज्ञान के बारे में जानकारी दी गई।

बिलासपुर सरदारी लाल प्रदेश एजेण्डा न्यूज़

राजकीय माध्यमिक विद्यालय अहड़वाला में इको क्लब के सौजन्य से बच्चों को वनरक्षक सप्ताह के अंतर्गत वनस्पति विज्ञान के बारे में जानकारी दी गई। इस मौके पर श्री गुलशन कुमार जी विज्ञान अध्यापक ने बच्चों को पेड़ पौधों के बारे में जानकारी दी व उनके महत्व के बारे में विस्तार पूर्वक बताया।

और सभी बच्चों को एक-एक पौधा लगाने की प्रेरणा दी। स्कूल के मुख्य अध्यापक श्री हरिंदर सिंह जी ने बताया कि पेड़ पौधे हमारे जीवन का आधार हैं । इसलिए हमें अधिक से अधिक पेड़ पौधे लगाने चाहिए और जो पौधे लगाए गए हैं उनकी देखभाल भी करनी चाहिए। इस अवसर पर श्रीमती परविंदर कौर ,श्रीमती मंजू ,किरणपाल , बिमला ,उर्मिला आदि उपस्थित रही।

 

 

धरती को बचाने के लिए पौधे लगाएं–कमल किशोर

धरती को बचाने के लिए पौधे लगाएं–कमल किशोर

बिलासपुर सरदारी लाल प्रदेश एजेण्डा न्यूज़

ललहाड़ी स्कूल में इको क्लब के समर कैम्प के अंतर्गत आज वृक्षारोपण दिवस के तहत स्कूल में वृक्ष रोपित किए गए।इको क्लब के इंचार्ज वीरेंद्र कुमार की अगुआई में यह कार्य किया गया।जिसका नेतृत्व स्कूल के प्राचार्य कमल किशोर जी ने किया।इस कार्यक्रम के अंतर्गत विदयालय के प्रांगण में कुछ पौधे रोपित किए गए और साथ ही हर पौधे की तीन वर्ष तक रखवाली करने का संकल्प लिया गया।

 

इस अवसर पर विदयालय के प्राचार्य कमल किशोर जी ने कहा कि अगर हमें धरती और धरती पर रह रहे मानव समेत अन्य जीव-जंतुओं को बचाना है तो निरंतर पेड़ लगाने होंगे और हर पेड़ की रक्षा अपने बच्चों की तरह करनी होगी।

 

उपरोक्त जानकारी देते हुए स्कूल प्रवक्ता कृष्ण कुमार निर्माण ने बताया कि ललहाड़ी स्कूल में शिक्षा के साथ-साथ मानवीय पक्ष और मानवीय जिम्मेंदारियों के प्रति जागरूक करने के लिए निरन्तर कार्यक्रम किए जाते हैं क्योंकि यह सब शिक्षा का हिस्सा है।इस अवसर पर धनीराम,राजेश कुमार,सुदेश कुमार,हरभजन सिंह,संजीव कुमार,विशाल सिंह,पवन कुमार,मधु मैडम,पूजा यादव,मनविंदर कौर,जसविंदर कुमार,सुशील कुमार,प्रदीप कुमार,मनदीप कौर,राजीव शर्मा,संदीप सिंह,बलविंदर कुमार,चमन लाल,देवेंद्र कुमार,अजय कुमार,राजबीर सिंह,रामसिंह,मनप्रीत सिंह,प्रदीप कुमार आदि उपस्थित रहे।

 

 


समाधान शिविर में शिकायतों का हो रहा प्राथमिकता से निपटारा

समाधान शिविर में शिकायतों का हो रहा प्राथमिकता से निपटारा
-नागरिकों की समस्याओं के समाधान में समाधान शिविरों की साबित हो रही अहम भूमिका

 

यमुनानगर रविंद्र चौहान प्रदेश एजेण्डा न्यूज़

जिला उपायुक्त कैप्टन मनोज कुमार के मार्गदर्शन में वीरवार को जिला सचिवालय के सभागार में समाधान शिविर का आयोजन किया गया। समाधान शिविर में लोगों की समस्याओं को सुनकर उनका हल करके शिकायत कर्ताओं को संतुष्ठ कर रहे है। समाधान शिविर में नागरिकों की प्रॉपर्टी, आईडी, परिवार पहचान पत्र, राशन कार्ड तथा विभिन्न सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजनाओं आदि समस्याएं सुनी गई।

 

 

आयोजित शिविर में करीब 67 शिकायतकर्ता परिवार पहचान पत्र, प्रॉपर्टी, आईडी, परिवार पहचान पत्र, राशन कार्ड संबंधित अपनी समस्याएं लेकर पहुंचे। मौके पर मौजूद संबंधित विभागों के अधिकारियों के माध्यम से नागरिकों की समस्याओं का मौके पर समाधान किया गया।

शिविर के दौरान अतिरिक्त उपायुक्त आयुष सिन्हा ने कहा कि इन शिविरों में मुख्यत: जनता से सीधे रूप से जुड़े प्रॉपर्टी आईडी, परिवार पहचान पत्र, जमीन रजिस्ट्रेशन, स्थानीय शहरी निकाय से संबंधित मकान का नक्शा तथा नो ड्यूज प्रमाण पत्र, सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजनाएं, राशन कार्ड और राशन वितरण, बिजली, पानी, सिंचाई आदि के अलावा क्राइम संबंधित समस्याएं सुनी गई और उनका मौके पर ही समाधान किया गया।

 

 

इसी कड़ी में हरभजन कौर पटरी मोहल्ला निवासी ने परिवार पहचान पत्र में आयु ठीक करने का अनुरोध किया है। आजाद नगर निवासी कुनाल, पटेल नगर निवासी अश्वनी कुमार, लाल द्वारा निवासी संदीप तलवार की परिवार पहचान पत्र में आईडी अलग की गई। आईटीआई निवासी हिमेश ग्रोवर, कांसापुर निवासी मांगेराम ने परिवार पहचान पत्र में आयु ठीक करके बुढ़ापा पेंशन बनवाने का अनुरोध किया है।

जिला पुलिस अधीक्षक गंगाराम पूनिया ने समाधान शिविर में आई पुलिस विभाग से संबंधित शिकायतों का मौके पर सम्बन्धित थाना प्रभारियों को समाधान करने के निर्देश दिए।

गावों में विकास पकड़ेगा रफ्तार,विकसित भारत का सपना होगा साकार- कृषि मंत्री कंवर पाल गुर्जर

गावों में विकास पकड़ेगा रफ्तार,विकसित भारत का सपना होगा साकार- कृषि मंत्री कंवर पाल गुर्जर

कृषि मंत्री कंवर पाल ने सरपंचों को 21 लाख रुपये तक के विकास कार्यों की सीमा बढ़ाने पर मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी का किया आभार प्रकट

यमुनानगर रविंद्र चौहान प्रदेश एजेण्डा न्यूज़

हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री कंवरपाल ने सरपंचों को बिना टेंडर के 21 लाख रुपये तक के विकास कार्य करवाने की मंजूरी प्रदान करने की सीमा बढ़ाने के लिए मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी का आभार व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि जमीनी स्तर की सरकार को प्रशासनिक और वित्तीय स्वायत्तता प्रदान करके हमारी सरकार ने ग्रामीण विकास की गति को बढ़ाया है।

कृषि मंत्री कंवरपाल गुर्जर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 2047 तक भारत को विकसित राष्ट्र बनाने की दिशा में पंचायती राज संस्थाओं को सुदृढ़ करना अति आवश्यक है और इसी कड़ी में हरियाणा सरकार ने माइक्रो लेवल पर प्लानिंग करके पंचायतों को सशक्त कर रही है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने ग्रामीण क्षेत्र में तैनात सफाई कर्मचारियों और नगर पालिका के सफाई कर्मचारियों के मासिक मानदेय में भी बढ़ोतरी की है, इसके लिए भी उनका आभार व्यक्त किया।

 

 

कृषि मंत्री कंवरपाल गुर्जर ने कहा कि गांव की सरकार लोकतंत्र की सशक्त तस्वीर है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2047 तक भारत को विकसित राष्ट्र बनाने का लक्ष्य रखा है। इस लक्ष्य की प्राप्ति के लिए प्रत्येक गांव का विकसित होना भी उतना ही जरूरी है। कृषि मंत्री कंवर पाल ने कहा कि गांव में विकास को गति देने के लिए प्रदेश सरकार की तरफ से धन की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी।

पिछली विपक्षी सरकारों द्वारा गांव के विकास को लेकर किये गए भेदभाव का जिक्र करते हुए कृषि मंत्री कंवर पाल ने कहा कि पूर्ववर्ती सरकारें गांव के विकास के लिए पैसा खर्च करने से बचती थी। जहाँ वर्ष 2014 से पहले पंचायतों के लिए राज्य वित्त आयोग का अनुदान 600 करोड़ रुपए था, वही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हरियाणा के लिए अनुदान की इस राशि को बढ़ाकर 2968 करोड़ रुपए किया गया है। इतना ही नहीं, वित्त वर्ष 2024-25 के बजट में ग्रामीण विकास के लिए 7276.77 करोड़ आबंटित किये गए हैं जबकि पूर्व की सरकार में 2013-14 के दौरान यह राशि 1898.48 करोड़ रुपए थी।